डायबिटीज को कंट्रोल में रखना है जरूरी, नहीं तो हो सकते हैं इन बीमारियों के शिकार

मधुमेह (Diabetes) किसी व्यक्ति के जीवन की गुणवत्ता (quality of life) को प्रभावित कर सकता है, और यदि रक्त शर्करा का स्तर (blood sugar levels) उच्च रहता है, तो यह जीवन के लिए खतरा भी हो सकता है। रक्त शर्करा के स्तर (blood sugar) का प्रबंधन (Managing) जटिलताओं (complications) के जोखिम (risk) को कम कर सकता है।

जो लोग अपने मधुमेह का प्रबंधन (diabetes management) नहीं करते हैं उन्हें खतरनाक रूप से उच्च रक्त शर्करा (high blood sugar) का खतरा होता है। यह कई लक्षणों को ट्रिगर कर सकता है, जिसमें मूड में बदलाव (mood changes) से लेकर अंग क्षति (organ damage) तक शामिल हैं।

मधुमेह चयापचय संबंधी विकार है जो शरीर के विभिन्न अंगों को प्रभावित करता है और उनके कार्यों को बदल देता है।अगर समय पर इसका इलाज नहीं कराया गया तो यह एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या हो सकती है। अतः एक व्यक्ति को नियमित रूप से अपना मधुमेह परीक्षण करवाना चाहिए।मधुमेह के विभिन्न संकेत और लक्षण हैं जिनमें अधिक पसीना आना, थकान, उच्च रक्त शर्करा का स्तर, बार-बार भूख लगने का अहसास और कई अन्य शामिल हैं।अगर आपको ये संकेत और लक्षण दिख रहे हैं तो रेडक्लिफ लैब से संपर्क करें और घर पर ही अपना डायबिटीज टेस्ट कराएं। रेडक्लिफ्स लैब होम सैंपल कलेक्शन और रिपोर्ट डिलीवरी के साथ सबसे अच्छा और विश्वसनीय डायबिटीज टेस्ट प्रदान करता है।

यदि आपका रक्त शर्करा का स्तर (blood glucose level) लंबे समय तक उच्च बना रहता है, तो आपके शरीर के ऊतक (tissues) और अंग (organs) गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त (damaged) हो सकते हैं। कुछ जटिलताएं (complications) समय के साथ जानलेवा (life threatening) हो सकती हैं।

Diabetes Screening Test / Blood Sugar Test

Offer Price:

₹399₹830
Book Your Test
  • Total no.of Tests - 12
  • Quick Turn Around Time
  • Reporting as per NABL ISO guidelines

यदि आप इससे निपटने का प्रयास नहीं करते हैं, तो आप कई जटिलताओं के लिए खुद को तैयार कर सकते हैं। मधुमेह (diabetes) आपके शरीर के लगभग हर हिस्से को प्रभावित कर सकता है, जिसमें शामिल है:

  • दिल और रक्त वाहिकाओं (heart and blood vessels)
  • आँखें (eyes)
  • गुर्दा (Kidney)
  • तंत्रिकाओं (nerves)
  • जठरांत्र पथ (gastrointestinal tract)
  • मसूड़े और दांत (gums and teeth)

दिल और रक्त वाहिकाओं (heart and blood vessels)

जिन लोगों का मधुमेह (diabetes) नियंत्रण (control) में नहीं है, उनमें हृदय रोग (heart disease) और रक्त वाहिका रोग (blood vessel disease) आम समस्या है। आपको दिल की समस्या और स्ट्रोक होने की संभावना उन लोगों की तुलना में कम से कम दोगुनी है, जिन्हें यह बीमारी नहीं है।

रक्त वाहिका क्षति (Blood vessel damage) या तंत्रिका क्षति (nerve damage) कई रोगियों में पैर की समस्याओं का कारण बन सकता है, जो दुर्लभ मामलों में (rare cases), विच्छेदन (amputation) का कारण बन सकती है। मधुमेह से पीड़ित लोगों में रोग रहित लोगों की तुलना में अपने पैर की उंगलियों और पैरों को कटने की संभावना दस गुना अधिक होती है।

आँखें (eyes)

अमेरिका में 20 से 74 वर्ष की आयु के वयस्कों में नई दृष्टि हानि (vision loss) का प्रमुख कारण मधुमेह है। इससे आंखों की समस्याएं हो सकती हैं, जिनमें से कुछ का इलाज न करने पर अंधापन हो सकता है:

  • नेत्र रोग (eye disease)
  • मोतियाबिंद (cataracts)
  • डायबिटिक रेटिनोपैथी (cataracts), जिसमें आपकी आंखों की छोटी रक्त वाहिकाएं शामिल होती हैं

गुर्दे की बीमारी (kidney disease)

मधुमेह (diabetes) वयस्कों में गुर्दे की विफलता (kidney failure) का प्रमुख कारण है, जो लगभग आधे नए मामलों के लिए जिम्मेदार है। समय के साथ, उच्च ग्लूकोज का स्तर (high glucose level) गुर्दे (kidney) सहित रक्त वाहिकाओं (blood vessels) को नुकसान पहुंचा सकता है। चूंकि गुर्दे रक्त को छानने (blood filtration) के लिए अधिक मेहनत करते हैं, गुर्दे की बीमारी (kidney disease) हो सकती है।

मधुमेह और गुर्दे की बीमारी से ग्रसित लोग निम्न लक्षणों का अनुभव कर सकते हैं:

  • बहुत गहरा या खूनी पेशाब (very dark or bloody urine)
  • झागदार पेशाब (foamy urine)
  • गुर्दे के पास पीठ के निचले हिस्से में दर्द (lower back pain near kidney)
  • क्रोनिक किडनी या यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन (Chronic kidney or urinary tract infection)

गुर्दे की बीमारी (kidney disease) अपने प्रारंभिक रूप में कुछ या कोई लक्षण नहीं देती है। जब लक्षण दिखाई देते हैं, तो नुकसान पहले ही हो सकता है। इसी कारण से यह जानना महत्वपूर्ण है कि क्या मधुमेह मौजूद है या नहीं और रक्त शर्करा के स्तर (blood glucose level) को जल्द से जल्द प्रबंधित करना चाहिए।

हृदय संबंधी लक्षण (cardiac symptoms)

मधुमेह वाले लोगों में अक्सर हृदय संबंधी लक्षण (cardiovascular symptoms) होते हैं, जैसे उच्च रक्तचाप (high blood pressure)। उनमें उच्च कोलेस्ट्रॉल स्तर (high cholesterol levels) और मोटापा भी हो सकता है, जो हृदय रोग (heart disease) के लिए जोखिम कारक (risk factor) हैं।

शोध के अनुसार (According to research), मधुमेह की सभी जटिलताओं में हृदय रोग (heart disease) वह है जिसके घातक होने की सबसे अधिक संभावना है। खराब परिसंचरण (Poor circulation) भी घाव भरने (wound healing) और पैरों जैसे चरम सीमाओं (extremities) में समस्याओं को धीमा करने में योगदान दे सकता है।

उच्च रक्तचाप (High blood pressure), सीने में दर्द (chest pain), या असामान्य हृदय ताल (abnormal heart rhythm) महत्वपूर्ण चेतावनी संकेत (warning signs) हैं। चाहे वे मधुमेह के कारण हों या किसी अन्य स्थिति के कारण, लोगों को उनकी उपेक्षा (ignore) नहीं करनी चाहिए।

तंत्रिकाएँ (nerves)

समय के साथ, उच्च रक्त शर्करा का स्तर (high blood glucose level) आपकी नसों को नुकसान पहुंचा सकता है। मधुमेह वाले लगभग 70% लोगों को इस प्रकार की क्षति होती है। पेरिफेरल डायबिटिक न्यूरोपैथी (Peripheral diabetic neuropathy) आपके पैरों में दर्द और जलन या महसूस करने की हानि का कारण बन सकती है। यह आमतौर पर आपके पैर की उंगलियों से शुरू होता है। यह आपके हाथों और शरीर के अन्य अंगों को भी प्रभावित कर सकता है।

ऑटोनोमिक न्यूरोपैथी (Autonomic neuropathy) आपके आंतरिक अंगों (internal organs) को नियंत्रित करने वाली नसों को नुकसान पहुंचाती है। लक्षणों में यौन समस्याएं (sexual problems), पाचन संबंधी समस्याएं (digestive problems) (गैस्ट्रोपेरेसिस (gastroparesis) नामक एक स्थिति), मूत्राशय (bladder) के भरे होने पर परेशानी महसूस करना, चक्कर आना और बेहोशी (dizziness and fainting) है।

डायबिटिक एमियोट्रॉफी (Diabetic amyotrophy) के कारण कूल्हे और जांघ (hip and thigh) में तेज दर्द या जलन और दर्द बना रहता है, इसके बाद जांघ में मांसपेशियों (muscle) में कमजोरी आ जाती है। यह एक दुर्लभ स्थिति है।

अपनी स्थिति का प्रभार लें (Take charge of your situation)

कुछ लोगों को मधुमेह की जटिलता (diabetes complications) को रोकने या उलटने के लिए अपने रक्त शर्करा को नियंत्रण (blood glucose level control) में रखने के लिए केवल जीवनशैली में छोटे बदलाव करने की आवश्यकता होती है। दूसरी ओर जटिलताओं का प्रबंधन करने और उन्हें खराब होने से रोकने के लिए दवाओं या सर्जरी की आवश्यकता होती है।

जटिलताओं का उपचार (Treatment of complications) क्षति (damage) को धीमा करने पर केंद्रित (focuses) है। इसमें दवा, सर्जरी या अन्य विकल्प शामिल हो सकते हैं। लेकिन मधुमेह की जटिलताओं को धीमा करने के सबसे महत्वपूर्ण तरीके हैं अपने रक्त शर्करा के स्तर (blood glucose level) को नियंत्रण में रखना, सही खाना, व्यायाम, वजन कम करना, धूम्रपान से बचना, उच्च रक्तचाप (high blood pressure) और उच्च कोलेस्ट्रॉल (high cholesterol) का इलाज करना।

सामान्य पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ’s)

#1. मधुमेह में शरीर का कौन सा अंग प्रभावित होता है? (Which part of the body is affected in diabetes?)

मधुमेह एक चयापचय विकार (metabolic disorder) है जो मानव शरीर के मुख्य अंग जैसे आंख, गुर्दे, हृदय, त्वचा और अन्य को प्रभावित करता है। अगर इस बीमारी का समय पर इलाज नहीं कराया गया तो यह कई गंभीर जटिलताओं को जन्म दे सकती है।

#2. मधुमेह के सामान्य चेतावनी संकेत क्या हैं? (What are the common warning signs of diabetes?)

हालाँकि मधुमेह के कई संकेत हैं लेकिन नीचे हमने मधुमेह के कुछ महत्वपूर्ण लक्षणों का उल्लेख किया है जो हैं:-

  • पसीना आना
  • थकान महसूस होना
  • चक्कर आना
  • भूख लगना
  • होठों में झुनझुनी
  • कांपना या कांपना
  • दिल की धड़कन का तेज़ होना इत्यादि शामिल हैं

#3. मधुमेह मुख्य रूप से किसकी कमी के कारण होता है? (Diabetes is mainly caused due to the deficiency of)

यह चयापचय रोग मानव शरीर में रक्त शर्करा के उच्च स्तर के कारण  या फिर उचित इंसुलिन उत्पादन की कमी के कारण होता है। मधुमेह में मानव शरीर या तो पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन का उत्पादन नहीं करता है या शरीर इंसुलिन के प्रति प्रतिक्रिया करना बंद कर देता है।

Share

Ms. Srujana is Managing Editor of Cogito137, one of India’s leading student-run science communication magazines. I have been working in scientific and medical writing and editing since 2018. I am also associated with the quality assurance team of scientific journal editing. I am majoring in Chemistry with a minor in Biology at IISER Kolkata.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Free Call back from our health advisor instantly